Breaking News

अजय जडेजा की वो पारी जिसके दम पर भारत ने हासिल की बड़ी जीत, टीम इंडिया की यह थी प्लेइंग 11

1 सितंबर 1996 को जिंबाब्वे के खिलाफ कोलंबो में सिंगर वर्ल्ड सीरीज के चौथे मुकाबले में भारतीय टीम के वर्तमान मुख्य चयनकर्ता सुनील जोशी ने वनडे डेब्यू किया था। इस मैच में भारत ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का निर्णय लिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए जिंबाब्वे की टीम ने 49.4 ओवर में 226 रनों पर ऑल आउट हो गई। जिंबाब्वे के लिए एंडी फ्लावर ने सर्वाधिक 71 रन बनाए, क्रैग विशार्ट ने 53 रन बनाए जबकि ग्रांट फ्लावर ने 26 रनों का योगदान दिया। अगर भारतीय गेंदबाजों की बात की जाए तो अनिल कुंबले ने सर्वाधिक 4 विकेट झटके। तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद और अपना पहला मैच खेल रहे सुनील जोशी ने 2-2 विकेट हासिल किए,जबकि तेज़ गेंदबाज जवागल श्रीनाथ को 1 विकेट मिला।

अजय जडेजा की वो पारी जिसके दम पर भारत ने हासिल की बड़ी जीत, टीम इंडिया की यह थी प्लेइंग 11
Third party image reference
227 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने 3 विकेट खोकर 43.5 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया। भारत के लिए कप्तान सचिन तेंदुलकर ने 40 रन बनाए जबकि साथी ओपनर अजय जडेजा ने 68 रनों का योगदान दिया। सौरभ गांगुली ने 36 और मोहम्मद अजहरूदन ने नाबाद 40* रन बनाए, विनोद कांबली भी 29* रन बनाकर नाबाद रहे। जिंबाब्वे की ओर से हीथ स्ट्रीक, पॉल स्ट्रांग और क्रैग इवांस ने भी 1-1 विकेट सफलता हाथ लगी। शानदार पारी खेलने वाले भारतीय ओपनिंग बल्लेबाज अजय जडेजा को इस मैच में मैन ऑफ द मैच का अवार्ड दिया गया।इस पारी के बाद अजय जडेजा का नाम सभी भारतीय क्रिकेट फैंस की जबान पर था।

Third party image reference
यह थी भारतीय प्लेइंग इलेवन और कप्तान
सचिन तेंदुलकर (कप्तान), अजय जडेजा, सौरभ गांगुली, मोहम्मद अजहरूद्दीन, विनोद कांबली, राहुल द्रविड़, नयन मोंगिया, अनिल कुंबले, सुनील जोशी, जवागल श्रीनाथ और वेंकटेश प्रसाद।

ये भी पढ़े :-
  • आपके हथेली की इन रेखाओ में छिपा है आपके जीवन का रहस्य, जानिए और खुद समझिये
  • महिलाओं के इन अंगो की बनावट और उन पर बने निशान लाते हैं सौभाग्य, जानिए
  • अब पैसे रखने के लिए खरीद लो तिजोरी क्योंकि इन 3 रशिवालो की बदलने वाली है किस्मत.
  • ये बीज बदल कर रख देता किस्मत, कंगालों को भी बनाता करोड़पति, खोजने निकल जाइए अभी
  • close