Breaking News

श्री कृष्ण के 3 भक्त युद्धभूमि में कदम रखते तो विश्व तबाह हो जाता ?

जाता है, जिसमें भगवान श्री राम के कई रूप बताए जाते हैं और युद्धों की कहानी बहुत ही रोचक है, इसमें कई शक्तिशाली योद्धाओं के बारे में बताया गया है, जिन्होंने युद्ध में जीत के लिए सब कुछ अर्पण कर दिया था, तो आज हम आपको 3 योद्धाओं के बारे में बताएंगे, जिन्होंने रामायण के युद्ध में भाग नहीं लिया था।
शत्रुघ्न ने रामायण में भाग नहीं लिया, शत्रुघ्न बहुत ही शक्तिशाली योद्धा थे और उन्हें श्री राम का छोटा भाई बताया जाता था, जब श्री राम-रावण से युद्ध लड़ रहे थे, तब शत्रुघ्न अपनी सेना लेकर निकल गए थे, लेकिन बीच में उन्हें नारद मुनि ने युद्ध में जाने से रोक लिया था।

श्रीराम के दूसरे छोटे भाई भरत ने भी युद्ध में भाग नही लिया क्योंकि जब श्री राम वनवास चले गए थे, तो भरत ने सब कुछ त्याग देने की सोची और वह एक कुटिया में रहने लगे और सिर्फ श्री राम का जाप करने लगे, लेकिन जब उनको पता चला श्री राम की लड़ाई रावण से होने वाली है, तो वह युद्ध में जाने के लिए तैयार हो गए, लेकिन श्रीराम ने उन्हें मना कर दिया।
महर्षि परशुराम ब्राह्मणों में सबसे ऊंची जाति के शक्तिशाली योद्धा माने जाते थे और उन्होंने 21 बार क्षत्रियों का वध कर दिया था, लेकिन जब परशुराम को पता चला कि श्री राम विष्णु जी के ही रूप है, तो उन्होंने सन्यास ले लिया था और वह रामायण में शामिल नहीं हो पाए थे।
ये भी पढ़े :-
  • आपके हथेली की इन रेखाओ में छिपा है आपके जीवन का रहस्य, जानिए और खुद समझिये
  • महिलाओं के इन अंगो की बनावट और उन पर बने निशान लाते हैं सौभाग्य, जानिए
  • अब पैसे रखने के लिए खरीद लो तिजोरी क्योंकि इन 3 रशिवालो की बदलने वाली है किस्मत.
  • ये बीज बदल कर रख देता किस्मत, कंगालों को भी बनाता करोड़पति, खोजने निकल जाइए अभी
  • close