Breaking News

बदमाशों ने की शव के साथ की ऐसी बर्बरता, देखकर रोने लगे अधिकारी, काँप उठी रूह, दोनों हाथ पीछे उठाकर तोड़ दिए और फिर

जांच एजेंसियों के मुताबिक, हत्या से पहले बलराम को यातना दी गई थीं। दोनों हाथ पीछे उठाकर तोड़ दिए गए थे। गर्दन भी टूटी थी। सिर को निर्ममता से कूंचा गया था। हत्या के बाद शव सीमेंट की बोरी में ठूंस दिया था।
बोरी में डालने से पहले पैर को जोर देकर मोड़ा गया था। 

जब शव बोरे से निकाला गया तो एक बार पुलिस, क्राइम ब्रांच और एसटीएफ के लोगों की रूह कांप गई। कइयों की आंखों से आंसू निकल आए। फिलहाल, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से साफ होगा कि किशोर की हत्या से पहले कितनी यातनाएं दी गईं थीं।

किशोर बलराम के अपहरण और हत्या में उसके गांव के आसपास के ही पांच लोगों के नाम सामने आए हैं। इसमें हसनगंज जंगलधूसड़ का एक मोबाइल विक्रेता भी शामिल है। मोबाइल विक्रेता ने ही फर्जी नाम, पते पर सिम दिया था। फिरौती मांगने में इसी सिम का इस्तेमाल किया गया था। पुलिस ने सबूतों के आधार पर मोबाइल विक्रेता समेत दो आरोपियों को हिरासत में ले लिया है।
ये भी पढ़े :-
  • आपके हथेली की इन रेखाओ में छिपा है आपके जीवन का रहस्य, जानिए और खुद समझिये
  • महिलाओं के इन अंगो की बनावट और उन पर बने निशान लाते हैं सौभाग्य, जानिए
  • अब पैसे रखने के लिए खरीद लो तिजोरी क्योंकि इन 3 रशिवालो की बदलने वाली है किस्मत.
  • ये बीज बदल कर रख देता किस्मत, कंगालों को भी बनाता करोड़पति, खोजने निकल जाइए अभी
  • close