Breaking News

राम मन्दिर भूमि पूजन फिर आया विवादों में, मुहूर्त पर उठे सवाल, जानिए क्या कह रहे है साधू....

राममंदिर के लिए जो प्रतिज्ञा ली जाएगी. उसमें श्रावण मास बोला जाएगा कि भाद्रपद. वहीं शिलापट्ट पर भी श्रावण रहेगा या भाद्रपद मास. प्रजानाथ शर्मा ने वक्तव्य जारी किया है, कि यूपी में काशी से प्रकाशित होने वाले ऋषिकेश और विश्व पंचांग में 5 अगस्त को 32 सेकंड वाले मुहूर्त का कहीं उल्लेख नहीं है.
वही इसके बाद भी तथाकथित ज्ञानी बार-बार शिलान्यास भूमिपूजन के 5 अगस्त को 32 सेकंड के मुहूर्त को श्रावण मास बता रहे हैं. आगे उन्होंने कहा कि जब 3 अगस्त तक श्रावण मास रहेगा, और 4 अगस्त से भाद्रपद मास प्रारम्भ हो जाएगा तो पांच को श्रावण कैसे होगा.

 हम यह पूछना चाहते हैं कि मुहूर्त चिंतामणि ग्रंथ जो मुहूर्त ज्योतिष का सर्वमान्य ग्रंथ है, उस ग्रंथ का उद्धरण क्यों नहीं दिया जा रहा है. अष्टक वर्ग से शास्त्रों में मुहूर्त निकालने की परंपरा नहीं है और बुधवार को अभिजीत मुहूर्त निषिद्ध किया गया है.
ये भी पढ़े :-
  • आपके हथेली की इन रेखाओ में छिपा है आपके जीवन का रहस्य, जानिए और खुद समझिये
  • महिलाओं के इन अंगो की बनावट और उन पर बने निशान लाते हैं सौभाग्य, जानिए
  • अब पैसे रखने के लिए खरीद लो तिजोरी क्योंकि इन 3 रशिवालो की बदलने वाली है किस्मत.
  • ये बीज बदल कर रख देता किस्मत, कंगालों को भी बनाता करोड़पति, खोजने निकल जाइए अभी
  • close