Breaking News

12 साल पहले साली से की थी दूसरी शादी, राजमिस्त्री की धारदार हथियार से हत्या, खून को देखते ही पूरी तरह से बदहवास हुई पत्नी

राजमिस्त्री का शव घर के बरामदे में लगे बिस्तर से 50 कदम दूर हाते में पड़ा मिला। खून के छीटें बिस्तर व पास की दीवार में थे। आशंका है कि हमले के बाद उसने भाग कर जान बचाने की कोशिश की, लेकिन हमलावरों ने ताबड़तोड़ कई वार करके उसे मौत के घाट उतार दिया।

मृतक के भाई ने अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। तिगाई गांव के मजरा नटपुरवा निवासी राजमिस्त्री संतोष उर्फ राजा (48) गांव के बाहर की तरफ मकान बनाकर रह रहा था। रक्षाबंधन पर सोमवार की सुबह पत्नी रेमन देवी, बेटी अनामिका (8) व शालिनी (7) को लेकर मायके छतरसा गई थी।

घर में केवल संतोष था। मंगलवार सुबह 10 बजे ग्रामीणों ने संतोष का शव मकान के पास हाते में पड़ा देखा। इससे वहां भीड़ जमा हो गई। मृतक के छोटे भाई रामनरेश की सूचना पर एएसपी अनूप कुमार और सीओ संदीप सिंह पहुंचे।

एएसपी ने बताया कि अज्ञात के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है। फिलहाल हत्या की वजह स्पष्ट नहीं हो सकी है। जल्द ही घटना का खुलासा किया जाएगा।

रामनरेश ने बताया कि भाभी की मौत के बाद भाई संतोष ने अपनी साली रेमन से 12 साल पूर्व शादी कर ली थी। पहली पत्नी से विक्की, विक्रांत व विकल तीन लड़के हैं। वह ननिहाल छतरसा में ही मकान बनाकर रह रहे हैं। उनका गांव में आना-जाना नहीं था। ग्रामीणों में चर्चा है कि दूसरी शादी करने से उसके बेटे नाराज रहते थे।


close