Breaking News

परिवार के 14 लोगो की हुई मौत तो अपना बंस बचाने के लिए खुद साड़ी में रहता है ये आदमी, वजह जानकर रह जाओगे दंग

चिंताहरण चौहान की सुबह शुरू होती है एक लाल साड़ी पहनने के साथ. फिर वो नाक में बड़ी नाथ पहनता है. झुमके, चूड़ियों से पूरा श्रृंगार करता है. ये सब इसलिए ताकि उसे मौत न आये. यूपी के जौनपुर के रहने वाले 67 साल के चौहान की पहली शादी तब हुई थी, जब वो 14 साल के थे. लेकिन, कुछ ही समय बाद उनकी पहली पत्नी की मौत हो गई.

21 साल की उम्र में वो पश्चिम बंगाल के दिनाजपुर में नौकरी करने गए. यहां उन्हें एक ईंट के भट्टे पर नौकरी मिल गई. उनका काम था मज़दूरों के लिए अनाज लेकर आना. जिस दुकान से वो अनाज लेकर आते थे, उसके मालिक से उनकी दोस्ती हो गई और करीबन 4 साल बाद उन्होंने उस मालिक की लड़की से शादी कर ली.


ये चिंताहरण की दूसरी शादी थी. लेकिन, यहां उसके परिवार वालों को उस लड़की से चौहान की शादी पसंद नहीं आई और परिवार के दबाव में आकर उन्हें उस लड़की को छोड़ना पड़ा. एक साल के बाद जब चौहान दिनाजपुर वापस काम करने पहुंचे, तो उन्हें पता चला कि दुकानदार की बेटी ये सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाई और उसने आत्महत्या कर ली.

बाद में चौहान के घरवालों ने उसे तीसरी शादी के लिए मनाना शुरू किया और अंततः उन्होंने तीसरी शादी कर ली. सभी को यकीन था कि ये शादी उनकी ज़िन्दगी संवारेगी, लेकिन चौहान की मुसीबतें अभी शुरू हुई थी. इस बीच उसे दिनाजपुर वाली लड़की भी सपने में दिखाई देती थी. हर बार सपने में वो रोती थी और चौहान को धोखा देने के लिए कोसती थी.


बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close