Breaking News

बैंक के चपरासी ने ही एटीएम का लॉक खोल निकाले थे 17.12 लाख रुपए, पैसे लुटने के लिए बैंक में फिर बन गया था चपरासी.....

झोटवाड़ा इलाके में थाने के पास पीएनबी बैंक के एटीएम मशीन का डिजीटल लॉक खोलकर 17.12 लाख रुपए चुराने वाले बदमाश को शनिवार को झोटवाड़ा थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी आगरा रोड पर जामड़ोली स्थित मंगल विहार निवासी मनीष सोनी के कब्जे से चोरी किए गए पूरे रुपए बरामद कर लिए। आरोपी ने चोरी किए पूरे पैसे एक दोस्त के घर रखवाए थे। आरोपी ने दोस्त को बताया कि ये प्लॉट खरीदने के लिए इक्कट्ठे किए है। अगले दिन दोस्त के साथ घुमकर 3-4 जगह पर प्लॉट देखे भी थे।

 डीसीपी प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि इस संबंध में 1 अगस्त को पीएनबी के शाख प्रबंधक दिनेश कुमार गुप्ता ने झोटवाड़ा थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि किसी बदमाश ने पासवर्ड के जरिए डिजीटल लॉक खोलकर 17.12 लाख रुपए चोरी कर लिए है। आरोपी ने वारदात के वक्त बूथ में लगे सीसीटीवी कैमरों पर स्प्रे कर दिया था।

जिससे उसका चेहरा पहचाने में नही आ रहा था। वारदात के बाद एडिशनल डीसीपी बजरंग सिंह, झोटवाड़ा एसीपी हरिशंकर शर्मा व एसएचओ विक्रम सिंह के नेतृत्व में गठित टीमों ने घटनास्थल के पास से चारों तरफ जाने वाली रोड पर लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले तो एक जगह पर आरोपी का चेहरा सामने आया।
पहचान में सामने आया कि कुछ समय पहले बैंक में चपरासी के पद काम कर चुका मनीष सोनी है। स्पेशल टीम के कांस्टेबल मालीराम को सूचना मिली कि मनीष अभी मोती डूंगरी स्थित बैंक में काम करता है। टीमों ने उसे पकड़कर पूछताछ की तो वारदात कबूल कर ली। आरोपी ने पैसे एक दोस्त के घर छिपा रखे थे।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close