Breaking News

आजमगढ़ कांड पर सीएम सख्त, दो अधिकारी निलम्बित, पीड़ितों को 5-5 लाख मुआवजे का ऐलान, आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर और एनएसए लगेगा

 यूपी के आजमगढ़ जिले के तरवां थाना क्षेत्र बांसगांव में प्रधान की हत्या  और उसके बाद हुए उपद्रव को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान में लिया है। सीएम ने मृतकों के परिजनों को अनुसूचित जाति, जनजाति एक्ट के तहत दी जाने वाली सहायता राशि के अलावा मुख्यमंत्री सहायता कोष से पांच-पांच लाख रुपये की अतिरिक्त धनराशि दिए जाने की घोषणा की है। 

साथ ही उन्होंने थानाध्यक्ष और चैकी इंचार्ज को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के भी निर्देश दिए हैं। यहीं नहीं हत्यारोपियों और उपद्रवियों के खिलाफ उन्होंने एनएसए और गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई  करते हुए संपत्ति जब्त करने व एनएसए लगाने के भी निर्देश दिये है। अधिकारियों ने सीएम के निर्देश पर अमल शुरू कर दिया है।

बता दें कि तरवां थाना क्षेत्र के बांसगांव के प्रधान सत्यमेव जयते उर्फ पप्पू 42 पुत्र रामसुख राम को शुक्रवार की शाम कुछ लोगों ने गांव के श्रीकृष्ण पीजी कालेज के पीछे स्थित पोखरे पर बुलाया और गोली मारकर हत्या कर दी। इससे लोगों का आक्रोश भड़क गया था और उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया था। इसी दौरान एक वाहन की चपेट में आने से 12 वर्षीय किशोर की मौत हो गयी थी। स्थानीय लोगों ने मौत पुलिस के वाहन से कुचलकर होने का आरोप लगाते हुए रासेपुर बोंगरिया चैकी और वहां खड़े कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया था।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close