Breaking News

सीवरेज सर्वे की जांच रिपोर्ट में हुआ खुलासा, मल से भी फ़ैल रहा है कोरोना, इस शहर में मिले 6.6 लाख लोग कोरोना संक्रमित

कोरोना संक्रमण मल से भी फैल रहा है। इसकी पुष्टि देश की वैज्ञानिक संस्था द्वारा तब की गई जब हैदराबाद के कई क्षेत्रों के सीवरेज सैंपल कलेक्ट करके उसकी जांच की गई। जिसमे चौकाने वाला सच सामने आया। अब तक तो सामने आया था कि संक्रमण नाक और मुंह के रास्ते फैल रहा है। हैदराबाद में संक्रमण का खतरा कितना ज्यादा है इसे जानने के लिए सरकार की तरफ से सीवरेज के सैंपल लेकर जाँच करने को कहा गया था। जिससे यह पता चल सके कि महानगर के क्षेत्रों में कोरोना का स्तर क्या है।

इस जाँच का यह भी मकसद था कि कोरोना संक्रमित मरीज कितने दिनों तक अपने मल में कोरोना का आरएनए छोड़ता है। इस जांच के दौरान वैज्ञानिकों ने पाया कि वायरस से संक्रमित व्यक्ति 35 दिनों तक कम से कम अपने मल में कोरोना संक्रमण को छोड़ता है। इसकी जाँच के लिए उस व्यक्ति के क्षेत्र में 30 दिनों तक के सीवेज से सैंपल लेना सबसे बेहतर हैं।
हैदराबाद में संस्थानों ने पाया कि महा नगर की 80 प्रतिशत STP की जाँच के दौरान लगभग दो लाख लोग अपने मॉल से रोजना कोरोना वायरस के जैविक हिस्सों को निकाल रहे हैं। जब इसे लेकर जांच की गई यो जो सामने आया वो चौका देने वाला था क्योंकि जाँच में सामने आया कि हैदराबाद में लगभग 6.6 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हैं।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close