Breaking News

संक्रमित युवती के प्यार में डूबा डॉक्टर बोला- ठीक होने के बाद मिलने आओगी न, कहा जब गाँव आओगी तो तुम्हे होटल और फिर....

है। युवती का कहना है कि क्वारेंटिन सेंटर में उसे एक डाॅक्टर मैसेज करते हुए कहता था कि अभी तक आपने मेरा नंबर सेव नहीं किया। क्वारंटाइन के बाद मिलने आओगी ? युवती का कहना है उसके ताऊ जी काेराेना संक्रमित पाए गए थे। जिसके बाद उनके परिवार के सभी सदस्यों को संक्रमण की जाँच के लिए बुलाया गया था। 29 जुलाई को जब अपनी मां के साथ युवती एमजी अस्पताल पहुंची तो उन्हें लाेधा क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया गया। 

जहां एक युवक उनकी देखभाल का रहा था जो खुद को डॉक्टर बताया करता था। लेकिन जब उनकी तबियत ख़राब हुई तो उन्हें दोबारा एमजी अस्पताल भेजा गया। जिसके बाद खुद को डॉक्टर बताने वाले युवक ने युवती को वॉट्सएप पर मैसेज करने शुरू कर दिए।

युवती को शुरुआत में लगा की डॉक्टर उनका तबियत के बारे में पूछ रहे हैं। उसे सब सामान्य लगा। जिसके बाद उसे कई मैसेज आने लगे और डॉक्टर ने युवती से पूछा कि अभी तक उसका नंबर सेव क्यों नहीं किया? क्वारंटाइन के बाद मिलने आओगी ? डॉक्टर यहां तक नहीं रुका वो युवती से उसकी तस्वीरें भी मांगने लगा जब वो एमजी अस्पताल भर्ती थी। जिसके बाद युवती ने उसे तस्वीर देने से इंकार कर दिया तो डॉक्टर उससे मिलने हॉस्पिटल भी आ गया। युवती ने बताया कि डॉक्टर उसे ठीक नहीं लग रहा था क्योंकि उसने युवती को मैसेज किया कि जब वो गांव आएगा तो उसे होटल बुलाएगा।
युवती ने बताया है कि एमजी अस्पताल के भी एक डॉक्टर ने उसे कई मैसेज किये। वहीं हॉस्पिटल का चपरासी उसे गंदे इशारे किया करता था। एमजी अस्पताल की कई शिकायतें पहले भी सामने आ चुकी हैं, एक मामले में तो केस भी दर्ज हो चुका है। जिसके बाद मामला डीएम के सामने पहुंच चुका है। स्वास्थ्य विभाग के पास भी कुछ खास कहने को नहीं है। वहीं महिलाओं की सुरक्षा को लेकर भी अब कई सवाल उठने लगे हैं।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close