Breaking News

ठगने का अनोखा तरीका, पैसे उड़ाकर कर देते है देश के कई बैंक में ट्रान्सफर, फर्जी कॉल सेंटर के जरिए ठगी कर उड़ाए करोड़ों रुपए और फिर एक दिन....

पुलिस लाइन में मीडिया को संबोतिध करते हुए बताया कि बीते जुलाई महीने में साइबर क्राईम सेल लखनऊ में सेवानिवृत्त समीक्षा अधिकारी प्रभाकर प्रसाद ने सूचना दी कि उनके खाते से 53 लाख रुपए का ऑनलाइन स्थानांतरण कर लिया गया है। इस संबंध में साइबर सेल ने त्वरित कार्यवाही करते हुए इस प्रकरण से जुड़ी सभी जानकारियां एकत्र की। इसके बाद हजरतगंज थाना में मुकदमा दर्ज कराया गया फिर कार्रवाई प्रारंभ की गई।

अपराधियों की धरपकड़ के लिए झारखंड राज्य के देवघर, दुमका एवं गिरिडीह में दबिश दी गई और गिरोह के 9 सक्रिय अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। जिनसे पूछताछ करने पर पता चला कि इस काम को वह पिछले कई सालों से लगातार कर रहे हैं। गैंग में शामिल लोग देवघर, दुमका एवं गिरिडीह में कॉल सेंटर बनाकर वहां से कॉल करके लोगों के पेंशन खातों की जानकारी प्राप्त कर उनके खातों से करोड़ों रुपए की ऑनलाइन धोखाधड़ी कर ठगी कर चुके हैं।


साइबर सेल ने पीड़ित के बैंक खातों का गहन अध्ययन किया तो पता चला कि उसके खाते की सभी गोपनीय जानकारियां अभियुक्तों ने धोखाधड़ी करके प्राप्त कर ली। इसके बाद पीड़ित के खातों से समस्त पैसे को देश के विभिन्न राज्यों जैसे महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल, हरियाणा एवं उत्तर प्रदेश में स्थित बैंकों के फर्जी खातों में ऑनलाइन स्थानांतरण कर लिया गया। पुलिस की पड़ताल में पता चला कि ठगी की रकम में से कुछ पैसे का ऑनलाइन ई वॉलेट जैसे मूवी क्विक, पेटीएम, फोनपे,

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close