Breaking News

बड़ी खबर : भरत में जल्द बन जाएगी कोरोना की दवा, साल के अंत तक भारत में आ जाएगी कोरोना वैक्सीन, कीमत मात्र इतने रूपये....

सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोवाशील्ड के लिए सरकार ने संस्थान को विशेष निर्माण प्राथमिकता लाइसेंस जारी किया है। साथ ही फास्ट ट्रेक ट्रायल प्रोटोकोल प्रक्रिया को मंजूर किया है, जो 58 दिन में पूरी हो जाती है। पुराने नियम से तो तीसरे चरण का ट्रायल पूरा होने में कम से कम 7 से 8 माह लगते थे।


कोवाशील्ड के लिए तीसरे चरण के लिए पहली डोजिंग शनिवार को शुरू कर दी गई है। 29 दिन बाद दूसरी डोजिंग की जाएगी। उसके बाद अगले 15 दिन में सैकिंड डोजिंग के डाटा का अध्ययन किया जाएगा।

 कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 22 अगस्त को देशभर में 17 केंद्रों पर करीब 1600 वालंटियर्स पर तीसरे चरण का ट्रायल शुरू किया गया। पूरा काम आईसीएमआर की गाइडलाइन्स के मुताबिक किया जा रहा है। रविवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने भी कहा कि हमारे देश में बन रहे चार वैक्सीन में एक का तीसरे चरण का ट्रायल शुरू हो चुका है।

केंद्र सरकार यह संकेत पहले ही दे चुकी है कि वह देशवासियों को मुफ्त में टीकाकरण के लिए योजना बना रही है। अगले साल जून तक 68 करोड़ वैक्सीन की खरीद सरकार करेगी।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close