Breaking News

आज के दिन गणेश जी के इस मंत्र का करें सिर्फ तीन बार जाप, जीवन में कभी नहीं होगी धन की कमी

गणेश चतुर्थी पर कैसे करें गणपति की पूजा
- गणेश जी की प्रतिमा की स्थापना दोपहर के समय करें , साथ में कलश भी स्थापित करें।
- लकड़ी की चौकी पर पीले रंग का वस्त्र बिछाकर मूर्ति की स्थापना करें।
इस मंत्र का उच्चारण करें - ऊँ वक्रतुण्ड़ महाकाय सूर्य कोटि समप्रभ। निर्विघ्नं कुरू मे देव, सर्व कार्येषु सर्वदा।। - दिन भर जलीय आहार ग्रहण करें या केवल फलाहार करें।

- शाम के समय गणेश जी की यथा शक्ति पूजा-उपासना करें और उनके सामने घी का दीपक जलाएं।
- गणपति को अपनी उम्र की संख्या के बराबर लड्डुओं का भोग लगाएं , साथ ही उन्हें दूब भी अर्पित करें।


- फिर अपनी इच्छा के अनुसार गणपति के मन्त्रों का जाप करें।
- चन्द्रमा को नीची दृष्टि से अर्घ्य दें , क्योंकि चंद्र दर्शन से आपको अपयश मिल सकता है।


- अगर चन्द्र दर्शन हो ही गया है तो उसके दोष का तुरंत उपचार कर लें।
- अंत में प्रसाद बांटें ।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close