Breaking News

तो क्या 'सुशांत का दोस्त संदीप सिंह है मास्टरमाइंड', चश्मदीद ने बताया मु'र्दाघर में क्या हुआ था, जानकर रह जाओगे दंग

सुरजीत सिंह राठौर, करणी सेना से जुड़े हुए हैं। सुरजीत ने एक निजी चैनल से बातचीत के दौरान बताया कि सुशांत की मौत के अगले दिन 15 जून को वो कूपर अस्पताल में मौजूद थे। सुजीत के मुताबिक, संदीप सिंह का व्यवहार काफी सं’दिग्ध लग रहा था। राठौर ने बताया, ‘वह (संदीप सिंह) एक बड़ी एम्बुलेंस के साथ आया था, जिसमें सुशांत का श’व लाया गया था। फिर एक और पुलिस अधिकारी आया, और दस्तावेजीकरण शुरू हुआ। तीन बजे सुशांत का अंतिम संस्कार होना था। न जाने संदीप ने उस अधिकारी से क्या कहा था।’


सुरजीत ने कहा, ‘मैं तो कहूंगा कि वह(संदीप) कातिल है। इस केस को वह हैंडल कर रहा है। संदीप ने मुंबई पुलिस से कहकर मुझे कूपर हॉस्पिटल से बाहर करवाया था। वह एम्बुलेंस में सुशांत का श’व लेकर अस्पताल गया था और उसने पुलिस ऑफिसर्स को थम्स अप ‘का साइन भी दिखाया था। संदीप ने मुझसे बुरी तरह से बात की। यहां तक कि सुशांत का श’व लेने के लिए संदीप ने कागजात पर हस्ताक्षर भी नहीं किया था, एक और लड़का था जिसने हस्ताक्षर किए और बीएमसी को एक पत्र दिया।’

सुरजीत ने कहा कि संदीप सिंह की संदिग्ध भूमिका को लेकर उन्होंने बांद्रा डीसीपी त्रिमुखे से मुलाकात की थी। सुरजीत ने बताया, ‘मैंने डीसीपी से कहा कि सुशांत मामले में संदीप सीबीआई जांच के खि’लाफ क्यों हैं, इस बात की जांच होनी चाहिए। लेकिन डीसीपी ने कहा कि हमें ये लिखित में दो फिर मैं एक्शन लूंगा। मैंने उन्हें लिखकर भी दिया लेकिन संदीप का कुछ भी नहीं हुआ। मैंने फिर से डीसीपी से मुलाकात की कोशिश तो मुझे हर बार टाल दिया गया। अगर सीबीआई संदीप सिंह को गिर’फ्तार करती है, तो सब सच्चाई सामने आ जाएगी।


बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close