Breaking News

जिनको कंभी भारत में डर लगता था वो.....भारत विरोध का गढ बन चुके तुर्की पहुंचा आमिर खान, राष्ट्रपति की बेगम मिलकर शान में पढ़े कसीदे, फिल्म का विरोध शुरू

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, आमिर खान ने मुलाकात का अनुरोध किया था। मुलाकात के दौरान दोनों ने एक-दूसरे की प्रशंसा की। खान ने महिलाओं और बच्चों की शिक्षा के संबंध में कई मानवीय परियोजनाओं का समर्थन करने के लिए एर्दोगन की प्रशंसा की, जबकि तुर्की की पहली महिला ने अभिनेता को उनकी फिल्मों में 'सामाजिक समस्याओं' को उठाने के लिए सराहा।

फ़िलहाल भारत विरोधी रुख को लेकर तुर्की चर्चा में है। हाल में यह बात सामने आई थी कि तुर्की की तरफ से भारत के मुसलमानों को कट्टर बनाने की भरपूर कोशिशें हो रही है। वह कट्टर मुसलमानों को और कट्टर बना कर उन्हें भारत विरोधी गतिविधियों में इस्तेमाल करना चाहता है।

बता दें कि धारा 370 के मुद्दे पर तुर्की ने पाकिस्तान का समर्थन और भारत का जबरदस्त किया था। इसके बाद वह भारत विरोधी गतिविधियों का गढ़ बन चुका है। तुर्की में पनप रहे इस नए तरह के आतंकवाद को कोई और नहीं बल्कि वहाँ की एर्दोगन सरकार खुद बढ़ावा दे रही है। ऐसे में आमिर खान का उससे मिलना लोगों को सोंचने पर मजबूर कर दिया है।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close