Breaking News

कुछ दिन पहले WHO ने की थी भविष्यवाणी, WHO की इस भविष्यवाणी से खौफ में आया एशिया, ये है बड़ी वजह

कोरोना के बढ़ते संक्रमण की वजह से अब वहां पर हालात ऐसे बन चुके हैं कि अब यह देश लॉकडाउन की ओर वापस लौट रहे हैं। कोरोना संक्रमण के मामले में भारत तीसरे स्थान पर पहुंच चुका है, तो वहीं लगातार गंभीर होती स्थिति के साथ अमेरिका लगातार पहले स्थान पर काबिज है। 

भारत के उन स्थानों पर लॉकडाउन का सिलसिला जारी है, जहां पर कोरोना का कहर थम नहीं रहा है। उधर, अब तो यूरोप में इस कदर स्थिति गंभीर हो चुकी है कि यूरोपीय देशों में लोग अब लॉकडाउन का विरोध कर रहे हैं। कोरोना से सबसे ज्यादा मौत अमेरिका में हुई है। इसके बाद ब्राजील का नाम आता है, जहां पर कोरोना से मरने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है।

यहां पर हम आपको बताते चले कि कोरोना वायरस की वजह से लगातर जारी इस लॉकडाउन की वजह इन देशों को आर्थिक मोर्चे पर भी करारी शिकस्त का सामना करना पड़ रहा है। फ्रांस, स्पेन, पुर्तगाल और इटली ने अप्रैल-जून की तिमाही में अपनी अर्थव्यवस्था में भारी गिरावट देखी जबकि यूरोप के जीडीपी में 12.1 प्रतिशत गिरावट देखी गई। उत्तर ब्रिटेन में शुक्रवार को लाखों घरों पर नए प्रतिबंध लगा दिए गए। लॉकडाउन का नतीजा यह है कि अधिकांश विकसित देश भी अब आर्थिक शिथिलता का सामना कर रहे हैं।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।
ये भी पढ़े :-
  • आपके हथेली की इन रेखाओ में छिपा है आपके जीवन का रहस्य, जानिए और खुद समझिये
  • महिलाओं के इन अंगो की बनावट और उन पर बने निशान लाते हैं सौभाग्य, जानिए
  • अब पैसे रखने के लिए खरीद लो तिजोरी क्योंकि इन 3 रशिवालो की बदलने वाली है किस्मत.
  • ये बीज बदल कर रख देता किस्मत, कंगालों को भी बनाता करोड़पति, खोजने निकल जाइए अभी
  • close