खेती के अतिरिक्त पशु पालन पर भी जोर दिया जा रहा है. इसी के तहत पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना प्रारम्भ की गई है. इसमें सरकार किसानों एवं पशु पालकों को पशुद खरीद पर 1.60 लाख रुपए तक का कर्ज़ बिना गारंटी में देती है. साथ ही दुधारू पशुओं की खरीद पर सब्सिडी भी दी जाती है.



इससे डेयरी उद्योग को भी बढ़ावा मिलेगा. इस योजना का फायदा लेने के लिए लाखों लोगों ने आवेदन किया था. जिनमें से करीब 57 हजार लोगों के आवेदन स्वीकार किए गए हैं, इन्हें बैंक की ओर से क्रेडिट कार्ड जारी कर दिया गया है.

पशु किसान क्रेडिट कार्ड स्कीम केन्द्र सरकार की किसान क्रेडिट कार्ड योजना की तरह ही है. हरियाणा सरकार पशु किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए पशु पालकों की स्थिति सुधारने की प्रयास कर रही है. बताया जाता है कि वहां के विभिन्न बैंकों में लगभग 3,66,687 आवेदन आए थे, जिनमें से 57,106 को स्वीकृत करके बैंकों ने कार्ड जारी कर दिया है.

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें