Breaking News

आये थे घुमने हुआ लॉकडाउन तो फंस गए थे भारत में, 170 दिन रहे भारतीयों में तो हो गया भारत से प्यार, अब जाने लगे तो आ गए आँखों में आंसू और....

जानकारी के अनुसार कोरोना संक्रमण के पूर्व इंग्लैंड से भारत भ्रमण पर निकले विदेशी नागरिक माइकल गोपालगंज शहर में पहुंचे थे। जनता कर्फ्यू के दिन ही पुलिस ने शहर के अरार मोड़ पर वाहन जांच के दौरान उन्हें रोककर पूछताछ की। पुलिस कर्मियों से मिलने के बाद मूल रूप से इंग्लैंड के लिबरपुल निवासी माइकल दुहर ने पुलिस से ही मदद की मांग की।




नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार ने माइकल दुहर को सदर अस्पताल में बने क्वारंटाइन सेंटर में रखवाया। क्वारंटाइन की अवधि पूरा करने के बाद विदेशी नागरिक माइकल बाहर निकले, लेकिन तब तक पूरे देश में पूर्ण लॉकडाउन घोषित हो चुका था। इसके बाद नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार ने अपने आवास पर अपने साथ रखा। इस दौरान करीब 170 दिन वे पुलिस के साथ रहे।

लॉकडाउन समाप्त होने व आनलॉक में हवाई यात्रा को मंजूरी मिलने के बाद माइकल के स्वजनों ने उनके लिए एयर टिकट भेज दिया। इसके बाद माइकल को रविवार की सुबह नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार व सब इंस्पेक्टर नेहा कुमारी ने दिल्ली के लिए रवाना किया। अपने घर रवाना होने के बाद पूर्व माइकल काफी भावुक दिखे। उन्होंने बताया कि भारत में बिहार पुलिस के पदाधिकारियों ने मेरे लिए जो सहयोग व समर्पण दिखाया है वह सराहनीय है।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close