Breaking News

सेना का चीन को जवाब, विवाद छोड़ पेश की मानवता की मिसाल, बचाई 3 चीनी नागरिकों की जान, बताया सही रास्ता, खाने को दिया समान....

उत्तर सिक्कम में खराब मौसम की वजह से चीन के तीन नागरिक रास्ता भटक गए थे. ऐसे में भारतीय सेना उनके लिए देवदूत बनकर पहुंची और रेस्क्यू कर इलाज कराने के बाद वापस चीन की तरफ भेज दिया. सेना की मानें तो, चीन के तीन नागरिक एक महिला और दो पुरुष नॉर्थ सिक्किम के प्लाटू इलाके में 3 सितंबर को रास्ता भटक गए थे. 

बर्फ के बीच में रास्ता भटकने की वजह से भारतीय सेना ने उनको सही मार्ग दिखाने का फैसला किया और नागरिकों को खाना, पानी, ऑक्सीजन, गर्म कपड़े और दवाईयां दी. जब उनकी हालत स्थिर हुई तो सेना ने उन्हें सही रास्ते की तरफ भेज दिया. चीनी नागरिकों की मदद के बाद सेना ने एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा- मानवता सर्वोपरि. जिसका मतलब है कि, वह सिद्धांत या विचारधारा जिसमें मानव हित को सर्वोपरि माना जाता है.

हैरानी वाली बात है कि, जो भारतीय सेना हमेशा लोगों की मदद के लिए आगे रहती है. फिर चाहे वो दुश्मन देश ही क्यों न हो. उसी सेना के साथ ऐसा सलूक किया जाता है. सीमा पर चीन लगातार नापाक हरकतों को अंजाम देने की कोशिशों में लगा हुआ है. शुक्रवार को जानकारी मिली थी कि, चीनी सैनिकों ने अरुणाचल प्रदेश के 5 लोगों को उस वक्त अगवा कर लिया था जब वह जंगल में शिकार के लिए गए थे. दरअसल, दोनों देशों के बीच 3488 किलोमीटर की सीमा की शुरुआत उत्तर पूर्व में अरुणाचल प्रदेश से होती है. लेकिन चीनी सैनिकों की हरकतों का जवाब भारत के जाबांज जवानों ने 3 नागरिकों की जान बचाकर दिया है.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close