Breaking News

भारत के 3 सबसे पवित्र सरोवर जहां स्नान करने से मिलती है मोछ की प्राप्ति, क्यों है इतने महशूर और क्या छुपा है इनके पीछे राज, जानिए.....

मानस सरोवर :मानसरोवर झील एक बहुत ही खूबसूरत जगह है जो कैलाश पर्वत से 20,015 फीट की ऊंचाई पर 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। बता दें कि यह झील पवित्रता का प्रतीक है जिसके बारे में कहा जाता है कि इस झील में नहाने से इंसान को अपने जीवन में किये गए सभी पापों से मुक्ति मिलती है। मानसरोवर झील के साथ कैलाश पर्वत का अपना एक ऐतिहासिक महत्व है। आपको बता दें कि मानसरोवर दो शब्दों से मिलकर बना है- जिसमें 'मानस' का अर्थ मन और 'सरोवर' का अर्थ है झील।

हिंदू पौराणिक कथाओं की माने तो सबसे पहले मानसरोवर झील को भगवान ब्रह्मा के दिमाग में बनाया गया था, जिसकी वजह से इसका नाम मानसरोवर पड़ा। हिंदू धर्म के अनुसार कैलाश पर्वत वह स्थान था जहां भगवान शिव निवास करते थे और इसलिए इस जगह को स्वर्ग के सामान माना जाता है। झील के बारे में कहा जाता है कि इसका रंग बदलता रहता है। झील का रंग तटों के पास नीला होता है जो केंद्र में हरे रंग में बदल जाता है।


बिन्दु सरोवर :अहमदाबाद से 130 किलोमीटर की दूरी पर सिद्धपुर में बिन्दु सरोवर, रुद्र महल मंदिर और अरवदेश्वर शिव मंदिर के खंडहर के साथ एक छोटा तालाब है। बिंदु सरोवर सामूहिक रूप से भारत के पंच पवित्र सरोवर का हिस्सा है। इस सरोवर का उल्लेख रामायण और महाभारत में भी मिलता है। पोराणिक कथायों के अनुसार माने भगवान विष्णु के आँसू गिरने से बिन्दु सरोवर उत्त्पति हुई थी। और माना जाता है बिंदु सरोवर वही पवित्र स्थल है जहाँ भगवान परशुराम ने अपनी माता की अस्थियों का विसर्जन किया था। और इसी तथ्य के कारण इसे मातृ मोक्ष स्थल के रूप में जाना जाता है। और यहाँ स्नान करने से सभी पाप धुल जाते हैं।

नारायण सरोवर :-नारायण सरोवर गुजरात के सबसे महत्वपूर्ण हिंदू धार्मिक स्थलों में से एक है। यह सरोवर हिंदू धर्म के 5 पवित्र झीलों अर्थात मन सरोवर, पम्पा सरोवर, बिन्दु सरोवर, नारायण सरोवर और पुष्कर सरोवर का संयोजन है। यह झील सूखे की घटना से जुड़ी है इस सूखे को खत्म करने के लिए, भगवान विष्णु झील में नारायण के अवतार में प्रकट हुए। नारायण सरोवर के आसपास के मंदिरों के समूह को नारायण सरोवर मंदिर कहा जाता है।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close