Breaking News

सातारा में एक ही परिवार के 4 सदस्यों की हत्या, सेना का फर्जी अधिकारी बन आरोपी ने पति-पत्नी और दो बेटों की हत्या की

सातारा पुलिस के मुताबिक, तानाजी जाधव (55) ओर उनकी पत्नी मंदाकिनी जाधव (50) अपने दोनों बेटों, तुषार जाधव (26) और विशाल जाधव (20) के साथ रहती थीं। कुछ दिन पहले तानाजी की मुलाकात योगेश से हुई और उसने खुद को सेना का अधिकारी बताते हुए उनके दोनों बेटों की नौकरी लगवाने का वादा किया। इसके बाद अगस्त के पहले सप्ताह में वह तुषार और विशाल को लेकर मार्ली घांट पहाड़ी पर गया। उसने बताया कि वहां सेना का गुप्त कैंप है और वह बच्चों को ट्रेनिंग के लिए ले जा रहा है।


इसके बाद तानाजी और मंदाकिनी को अपने बच्चों की कोई जानकारी नहीं मिली। वे कई दिनों तक उन्हें तलाशते हुए अगस्त के पहले सप्ताह में मार्ली पहाड़ पर पहुंचे और वे भी गायब हो गए। इसके बाद अचानक एक गांव वाले ने 11 अगस्त को तानाजी का शव क्षतविक्षत हाल में झाड़ियों में पाया। पहचान होने पर पुलिस ने पूरे परिवार को तलाशना शुरू किया और 29 अगस्त को मंदाकिनी का और 31 अगस्त को उनके बेटे तुषार का शव एक खाई से बरामद किया। इसी खाई से मंगलवार दोपहर विशाल का शव भी बरामद हुआ है।


इस मामले की जांच कर रही पुलिस ने तानाजी का शव मिलने के बाद उससे आखिरी बार संपर्क में आने वाले योगेश को पकड़ा और उसकी निशानदेही पर ही परिवार के तीन अन्य शवों को बरामद किया है। कड़ाई से पूछताछ में योगेश ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। फिलहाल वह कस्टडी में है और पुलिस इस मामले से जुड़े और सुराग तलाश रही है।


बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close