Breaking News

अब कोई भी क्लर्क और बाबू नही करेगा मक्कारी, सीएम योगी ने जारी किया आदेश, 50 साल के ऊपर के सरकारी बाबू होंगे नौकरी से बाहर

सूत्रों के मुताबिक सरकर जल्द ही बाकी विभागों के लिए भी यह आदेश जारी करेगी। फिलहाल कमेटी स्वास्थ्य विभाग में 50 साल से ज्यादा उम्र के बाबुओं की कार्य क्षमता, ईमानदारी और शारीरिक दक्षता के आधार पर उनकी स्क्रीनिंग करेगी। इसके बाद उनमें छंटनी की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। 

सरकार के आदेश के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग में अपने काम के प्रति लापरवाही बरतने वाले और अपने काम में ढिलाई करने वाले कर्मचारियों की स्क्रीनिंग कर उनकी छंटनी की जाएगी। कमेटी को जल्द से जल्द अपनी रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है।

सरकार की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधीनस्थ कार्यालयों और चिकित्सालयों में काम कर रहे लिपिक संवर्ग के कर्मचारियों की सेवा दक्षता सुनिश्चित करने और अनिवार्य सेवानिवृत्ति के लिए स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया गया है। इस कमेटी में चार सदस्य शामिल हैं जो चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के 50 साल से ज्यादा उम्र के कर्मचारियों की स्क्रीनिंग की कार्रवाई पूरी करते हुए नियुक्ति 


छंटनी के लिए सरकार की तरफ से बनाई गई स्क्रीनिंग कमेटी में अपर निदेशक (प्रशासन) को अध्यक्ष बनाया गया है। उनके साथ संयुक्त निदेशक (कार्मिक), संयुक्त निदेशक (मुख्यालय) और वरिष्ठ लेखाधिकारी को सदस्य बनाया गया है। जानकारी के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग में प्रदेश भर में लिपिक संवर्ग के 1400 से 1500 कर्मचारी तैनात हैं। अफसरों की मानें तो इनमें से 50 से ज्यादा उम्र के करीब 30 से 40 प्रतिशत कर्मचारी हैं। शासन के इस फैसले के बाद स्वास्थ्य महकमें में हड़कंप मचा हुआ है।


बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close