Breaking News

मकान मालिक ने दोस्त संग किशोरी के साथ 5 दिनों तक की दरिंदगी, आरोपित के बेटे ने छुड़ाया, जब महिला ने सुनाई दांस्ता तो.....

पीड़िता द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी के अनुसार वह नालंदा जिले के एक गांव की रहनेवाली है। अपने माता- पिता के साथ वह खुसरूपुर में किराये के मकान में रहती है। 5 सितंबर को वह घर से अकेले ही टीसी लेने स्कूल जा रही थी। रास्ते में सुनसान सड़क पर बैकठपुर बागीचे के पास उसका मकान मालिक अलख सिंह अपने दोस्त बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के लक्ष्मणपुर निवासी शैलेन्द्र प्रसाद के साथ बाइक से आया। दोनों बाइक खड़ी करके मुझसे बातचीत करने लगे।



 इसी बीच मकान मालिक ने अपनी जेब से रूमाल निकालकर मेरे नाक के पास झाड़ दिया, इसके कुछ ही देर बाद वह बेहोश हो गई। तभी दोनों ने मुझे अगवा कर लिया। होश आने पर अंधेरा हो चुका था। मैं अपने को एक कमरे के अंदर में बंद पाया। रात में मकान मालिक और उसके दोस्त ने पहले धमकी देकर मुझे खाना खिलाया। बाद में दोनों ने बारी- बारी से दुष्कर्म किया। दूसरे दिन मुझे पता चला कि कमरा शैलेन्द्र का है और मैं पटना के पत्रकारनगर में हूं। बावजूद इसके दोनों ने बंधक बनाकर पांच दिनों तक मेरे साथ दरिंदगी करते रहे।

पीड़िता के मुताबिक 12 सितंबर को आरोपित शैलेंद्र का पुत्र रविरंजन कुमार पत्रकारनगर स्स्थित अपने कमरे पर आया। मैंने उसे अपनी आपबीती बताई।तब उसने मुझे कमरे से बाहर निकालकर भागने में मदद की। भागने के दौरान पत्रकारनगर थाने की क्विक मोबाइल की नजर मुझ पर पड़ी। पूछताछ करने के बाद पत्रकारनगर क्विक मोबाइल की टीम ने मेरे माता- पिता और खुसरूपुर थाने की पुलिस को घटना की जानकारी दी। खुसरूपुर पुलिस पटना से मुझे अपने थाने ले आई।

थानाध्यक्ष सरोज कुमार ने बताया कि किशोरी के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर आरोपित अलख सिंह एवं शैलेन्द्र प्रसाद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पीड़िता को पुलिस अभिरक्षा में चिकित्सीय परीक्षण एवं कोर्ट में बयान के लिए पटना भेज दिया गया है।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close