Breaking News

अमेरिकी पत्रिका न्‍यूज वीक ने किया खुलासा, गलवान में मारे गए चीन के 60 सैनिक, कुर्सी बचाने को युद्ध चाहते हैं जिनपिंग

अमेरिकी पत्रिका न्‍यूज वीक में चीन मामलों के स्‍तंभकार गॉर्डन जी चांग ने कहा कि भारत ने चीनी सेना को जोरदार पटखनी दी है और अब भारत को चीनी राष्ट्रपति के अगले कदम की ओर नजर रखना होगी, क्योंकि बात उनकी सत्ता पर बन आई है। कहा तो ये भी जा रहा है कि जिनपिंग अब भारत को टुकड़ों में बांटने के लिए बड़ा ऐक्‍शन ले सकते हैं।



गॉर्डन ने कहा कि लद्दाख में भारतीय सेना के जवाबी कार्रवाई के बाद अब शी जिनपिंग का भविष्‍य खतरे में पड़ता दिखाई दे रहा है। उन्‍होंने कहा कि लद्दाख में घुसपैठ की यह पूरी योजना शी जिनपिंग और उनकी सेना ने बनाई थी लेकिन यह बुरी तरह से फ्लाप रही है। गलवान हिंसा में चीन के कम से कम 43 सैनिक मारे गए और यह दोनों के बीच पिछले 45 साल में सबसे घातक संघर्ष था। चीनी सैनिकों के मारे जाने की संख्‍या 60 तक हो सकती है।

उन्‍होंने कहा कि इस असफलता के बाद अब शी जिनपिंग सेना में अपने विरोधियों पर गाज गिराएंगे और उनकी जगह अपने समर्थक लाएंगे। सबसे महत्‍वपूर्ण बात यह है कि चीन की तीनों सेनाओं के प्रमुख शी जिनपिंग भारत के खिलाफ एक और आक्रामक कार्रवाई कर सकते हैं।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close