Breaking News

चीन की आंख में आंख डालकर बात कर रहा ही भारत, सीमा पर टेंशन के बीच लद्दाख में दो नई सड़कों को सरकार ने दी मंजूरी

वेबसाइट द प्रिंट ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि केंद्र सरकार भारत-चीन बॉर्डर पर दो सड़कों पर मोटरवे नेटवर्क को विकसित करने पर भी विचार कर रही है। इनमें से एक सड़क हिमाचल प्रदेश में पूह को लद्दाख के चुमार से जोड़ने वाली होगी।



इसके अलावा एक सड़क उत्‍तराखंड के हर्षिल से हिमाचल के करचम तक होगी। दौलत बेग ओल्‍डी में सड़कों के निर्माण कार्य में तेजी आई है। यहां पर एक हवाई पट्टी भी है जिसका प्रयोग सेना और वायुसेना अक्‍सर करते हैं। भारत और चीन के बीच टकराव को चार माह हो चुके हैं। बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन (बीआरओ) की तरफ से इन सड़कों के निर्माण कार्य में तेजी लाई जाएगी।

बीआरओ के पास इस समय भारत-चीन बॉर्डर पर 73 नई सड़कों के निर्माण की जिम्‍मेदारी है। लेकिन ये दो नई सड़कें इन 73 सड़कों के प्रोजेक्‍ट का हिस्‍सा नहीं हैं। बीआरओ ने चीन बॉर्डर के करीब सेना और हथियारों के मूवमेंट के मकसद से सड़कों के निर्माण कार्य में तेजी दिखाई है। सरकार के सूत्रों की तरफ से कहा गया है कि दोनों नई सड़कें करीब 150 किलोमीटर लंबी हैं और इनका निर्माण कार्य काफी जटिल होगा। जिस जगह पर इन सडकों का निर्माण कार्य हो रहा है, वहां पर भौगोलिक स्थिति काफी मुश्किल है। एक सड़क के निर्माण में 2,500 करोड़ से 3,000 करोड़ रुपए तक की लागत आएगी।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close