Breaking News

पुलिस का कालाकारनामा, गलत बयान देने के लिए नाबालिगों को थर्ड डिग्री और एनकाउंटर की धमकी, लगाया बिजली का करंट का इल्जाम, एएसपी ने कहा- नहीं किया टॉर्चर

घटना अंबेडकर नगर इलाके की है। यहां 18 अगस्त को अजय नाम का किशोर लापता हो गया था। 23 अगस्त को उसकी लाश पुरहा नदी में मिली थी। परिजनों ने थाने में पहले गुमशुदगी और लाश मिलने के बाद अजय के अपहरण व हत्या का केस दर्ज कराया। 

बिधूना कोतवाल और सीओ पर आरोप है कि शक के आधार पर सात किशोरों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया और अजय के फिसलकर नदीं में डूबने का बयान देने के लिए थर्ड डिग्री दी। अजय के परिजनों ने पांच लोगों के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बिधूना कोतवाल विनोद शुक्ल के मुताबिक, परिजनों के साथ नाबालिगों को थाने लाया गया था और पूछताछ के बाद उनको जाने दिया गया था। सीओ बिधूना मुकेश प्रताप सिंह इस घटना की विवेचना कर रहे हैं।

इस बारे में मीडिया से बात करते हुए एक लड़के का वीडियो वायरल हो गया। लड़के ने कहा कि पुलिस उसको पकड़कर ले गई, थाने में भी पुलिस ने मारपीट की, पुरहा नदी के किनारे ले जाकर भी उसको पीटा गया। पुलिस ने एनकाउंटर की भी धमकी दी। नाबालिग लड़के के पिता ने मीडिया को बताया कि पुलिस उसके बच्चे को उठाकर ले गई। उसके साथ मारपीट करते हुए उसको करंट लगाया और यह बयान देने पर मजबूर किया कि पुरहा नदी में अजय फिसलकर गिरा और वह नदी में डूब गया। पिता ने बताया कि पुलिस ने उसके बेटे को धमकी दी कि अगर बयान को बदला तो तुम्हारा एनकाउंटर कर देंगे। 

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close