Breaking News

अमेरिका और ताइवान की बढ़ती नजदिकियां नही पच रही चीन को, ताइवान यात्रा से भड़के चीन ने उतारे जंगी जहाज, कहा- कुछ घंटों में वहां कर लेंगे कब्जा

अमेरिका और ताइवान की बढ़ती नजदिकियां चालबाज चीन पचा नहीं पा रहा है। संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका के राजदूत ने ताइवान के टॉप अधिकारियों के साथ बैठक और लंच किया तो चीन आगबबूला हो गया। UN में चीन के प्रतिनिधि जेंग सुआंग ने संयुक्त राष्ट्र में इसपर नाराजगी जताई है।
लॉस

इसके साथ ही ताइवान पहुंचे अमेरिकी कैबिनेट के उपमंत्री क्रीथ क्रैच से चीन इतना नाराज़ है कि ताइवान स्‍ट्रेट में भयंकर युद्ध अभ्‍यास किए जा रहा है। उसका कहना कि युद्ध छिड़ा तो कुछ घंटों में वह ताइवान पर कब्‍जा कर लेगा।

हालांकि चीन के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि देश राष्ट्रीय संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए ताइवान स्ट्रेट के पास सैन्य अभ्यास कर रहा है। प्रवक्ता रेन गुओकियांग ने संयुक्त राष्ट्र के शांति अभियानों में चीन के सशस्त्र बल के शामिल होने पर एक संवाददाता सम्मेलन में शुक्रवार को युद्धाभ्यास की घोषणा की।

बीजिंग अपने क्षेत्र के हिस्से के रूप में ताइवान का दावा करता है और अन्य देशों और स्व-शासित द्वीप के बीच सभी आधिकारिक संपर्क का विरोध करता है। रेन ने कहा कि ताइवान और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच "मिलीभगत" के जवाब में सैन्य अभ्यास "एक वैध और आवश्यक कार्रवाई" है।

वरिष्ठ अमेरिकी दूत कीथ क्रैच ताइवान की नेता त्साई इंग-वेन से मिलने पहुंचे, जोकि अमेरिकी स्वास्थ्य सचिव एलेक्स अजार द्वारा की गई हाई-प्रोफाइल यात्रा के एक महीने बाद आया था।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close