Breaking News

एक तरफ डॉक्टर्स जहाँ कोरोना से लड़ रहे है वही कुछ लोग बदनाम करने में लगे हुए है, घर जाकर गर्भवती महिलाओं से कोरोना टेस्ट के नाम पर करता था छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला प्रकाश में आया है,आरोपित कोरोना जांच के नाम पर तीन दिनों तक महिलाओं के घर जाता रहा। महिलाओं को अलग कमरे में ले जाकर उनके साथ अश्लीलता की। शुरू में महिलाओं ने लोक-लाज के भय से चुप्पी साधी हुई थी लेकिन बाद में उन्होंने अपने पतियों को घटना की जानकारी दी।

इसके बाद कार्रवाई करते हुए पुलिस ने रविवार को इस मामले में आरोपित स्वास्थ्यकर्मी को गिरफ्तार कर लिया। राजिम थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपित शत्रघन सेन राजिम का रहने वाला है। यह सुरसाबांधा गांव के उपस्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्यकर्मी के पद पर तैनात है। इस गांव में एक घर से कुछ लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। इन लोगों को कोविड सेंटर में भेज दिया गया था।

इसके बाद परिवार के बाकी लोगों की जांच होनी थी। इसी कड़ी में 2 सितंबर को आरोपित घर पहुंचा, जहां 3 महीने और 9 महीने की गर्भवती महिलाएं थीं। इन्हीं के साथ आरोपित ने अश्लीलता की। इसके बाद वो 3 और 4 सितंबर को भी जांच के नाम पर घर गया और घटना को दोहराने लगा।

आरोपित शत्रुघन की हरकतों को बढ़ता देख महिलाओं ने अपने पतियों को घटना की जानकारी दी। लोगों ने स्वास्थ्य केंद्र पहुंचकर हंगामा कर दिया। मामला राजिम के बीएमओ वीरेंद्र हिरौंदिया के पास पहुंचा। शनिवार की सुबह बीएमओ ने इस संबंध में पूछताछ कर रिपोर्ट बनाई।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close