Breaking News

अगर आप भी लगती है हेयरबेंड तो हो जाये सावधान, हेयर बैंड ने उखाड़ी खोपड़ी की खाल, महिला की गई जान, आप भी रहें सावधान


ये पूरा मामला हरियाणा के पंचकूला का हैं. यहाँ एक्वा विलेज नाम के एम्यूजमेंट पार्क में पुनीत कौर अपने पति अमनदीप सिंह के साथ घुमने आई थी. पुनीत कौर के साथ उसकी माँ और बहन भी थे. पार्क में कुछ देर घुमने के बाद इन्होने गो कार्ट गाड़ी की सवारी करने का निर्णय लिया. आमतौर पर गो कार्ट की सवारी करने से पहले बालों में बाँधने के लिए एक हेयर बैंड दिया जाता हैं. हालंकि बाद में ये किसी के द्वारा चेक नहीं किया जाता हैं कि लोगो ने हेयर बैंड ठीक से बाँधा भी हैं या नहीं. यही लापरवाही आगे चलकर पुनीत कौर की मौत का कारण बन गई.

दरअसल पुनीत जिस गो कार्ट में बैठी थी उसे उनके पति अमनदीप चला रहे थे. इस दौरान पुनीत के हेलमेट का लॉक खुला गया जिसकी वजह से हेलमेट गाड़ी में ही गिर गया. जब पुनीत इस हेलमेट को उठाने के लिए नीचे झुकी तो उसके बाल गो कार्ट में पीछे लगी चेन में उअलाझ गए. उसके बाद ये बाल चेन से होते हुए गो कार्ट गाड़ी के टायर में बुरी तरह उलझते रहे. इस वजह से पुनीत के सिर के सारे बाल झटके से उसकी खोपड़ी की खाल सहित बाहर आ गए. ऐसा होने से पुनीत वहीँ बेहोश हो कर गिर गई. इसके बाद उनके पति अमनदीप पुनीत को अस्पताल में ले गए. लेकिन दुर्भाग्यवश पुनीत दम तोड़ चुकी थी.

डॉक्टर्स के अनुसार पुनीत की मौत की वजह उनके सर से बालो का झटके से निकलना हो सकता हैं. दरअसल बालों के चमड़ी साहित खोपड़ी से निकलने की वजह से गर्दन को जोरदार झटका लगा होगा जिसकी वजह से गर्दन की हड्डी टूट गई होगी और उनकी मौत हो गई. एक तर्क यह भी दिया गया कि चमड़ी सहित बाल निकलने की वजह से ब्रेन हैमरेज हुआ होगा.

बताते चले कि पुनीत और उनका परिवार मूल रूप से बठिंडा के गांव रामपुरा फूल का रहने वाला हैं. वे यहाँ खरड़ में अपने एक रिश्तेदार के यहाँ आई थी. यहाँ आने के बाद वे घुमने फिरने के लिए पिंजौर गार्डन गए. यहाँ से उन्होंने एक्वा विलेज में जाने का मन बनाया. यहीं पर अमनदीप और पुनीत ने गो कर्ट की टिकिट ली थी. अमनदीप और पुनीत का एक बेटा भी हैं.


बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close