Breaking News

चीन पहले राजनाथ से बैठक के लिए गिड़गिड़ाया, कुछ हासिल नहीं हुआ तो अब अपनी छाती पीट रहा है, राजनाथ जी ने खुलेआम दी.....

चीन द्वारा कई बार मीटिंग के लिए कहने पर मॉस्को में SCO की बैठक से इतर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कल अपने चीनी समकक्ष वी फेंग से मुलाकात की, और कहा जाता है कि यह बैठक दो घंटे से अधिक समय तक चली।
बैठक में जो तस्वीरें सामने आईं, वे यह बताने के लिए पर्याप्त थीं कि पूर्वी लद्दाख में उसके दुस्साहस के लिए राजनाथ सिंह चीन रक्षा मंत्री पर जम कर बरसे। परंतु बैठक के बाद चीन एक बार फिर से अपने उसी रूप में आ गया और पैन्गोंग झील पर हुई घटना के लिए भारतीय सेना को कसूरवार ठहराया। चीन की ओर से किसी हारे हुए निराशावादी की तरह से दिये गए बयान से ऐसा लग रहा है कि चीन की दादागिरी न चलने पर अब भारत को जिम्मेदार ठहरा कर सहानुभूति बटोरना चाहता है।
अब चीन का इस तरह बौखलाना लाज़मी है। चीन की इस बौखलाहट से कई बाते स्पष्ट होती है। पहला यह कि इस बार बैठक से पहले चीन भारत के ऊपर किसी प्रकार का दबाव नहीं बना पाया। इस बार चीन स्वयं दबाव में था जिसके बाद उसे इस बैठक के लिए हाथ पैर जोड़ने पड़े। दूसरा यह कि हर बार की तरह बैठक में इस बार चीन के मजबूत स्थिति में न होने से बैठक में चीन का एक भी एजेंडा सफल नहीं रहा। और तीसरा यह कि चीन इस बैठक में एक हारे हुए देश की भांति दिखाई दिया परंतु इसके बाद भी चीन को किसी भी देश कोई सहानुभूति नहीं मिलने वाली है।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close