Breaking News

दरिंदगी, पिता जेल में तो दंगाई ने युवती को हाथ-पैर बांधकर मिटटी का तेल डालकर, जिंदा जलाया इलाज के दौरान हुई मौत

सुल्तानपुर जिले के बल्दीराय क्षेत्र में पुरानी रंजिश को लेकर 18 साल की एक लड़की को मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दी गई। लखनऊ में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

woman burnt alive in sultanpur with arms and legs died during treatment

बल्दीराय के परिक्षेत्र अधिकारी विजय मल्ल यादव ने मंगलवार को बताया कि टडरसा गांव में पुरानी रंजिश को लेकर विरोधी गुट के लोगों ने सोमवार को प्रदीप सिंह की 18 वर्षीया पुत्री श्रद्धा के मुंह में कपड़ा ठूंसकर हाथ-पैर बांध दिया और उसके ऊपर तीन लोगों ने मिट्टी का तेल डालकर जला दिया, जिससे वह बुरी तरह झुलस गई। हालत गम्भीर होने पर उसे इलाज के लिए लखनऊ भेज दिया गया जहां देर रात उसकी मौत हो गई।

विजय मल्ल यादव के अनुसार गत दो जून को जमीन को लेकर दो पक्षों में झगड़ा हुआ था, जिसमें एक पक्ष की तरफ से 14 और दूसरे पक्ष की तरफ से 12 लोग नामजद हुए थे। दोनों तरफ से मुकदमा पंजीकृत कर विधिक कार्यवाही करते हुए आरोप पत्र न्यायालय में प्रेषित कर दिया गया है। श्रद्धा ने मृत्यु से पूर्व अपने बयान में आरोप लगाया है कि वादी पक्ष के तीन लोगों ने उसे केरोसिन डालकर जला दिया। बहरहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close