Breaking News

ट्रेन में फ्री सफर करने का शौक तो बनवा ली नकली ड्राईवर की ड्रेस , भागलपुर रेल पुलिस ने किया नकली लोको पायलट को गिरफ्तार

स्टॉफ स्पेशल ट्रेन में नकली लोको पायलट (ट्रेन ड्राइवर) बनकर सफर कर रहे अमित कुमार सिंह उर्फ जितेंद्र सिंह को शनिवार को पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया। रेल पुलिस को पूछताछ में अमित ने कई खुलासा किया है। स्टॉफ ट्रेन से पहले भी वह यात्री ट्रेन में लोको पायलट बनकर सफर करता था। सफर के दौरान वह लोको पायलट का ड्रेस नीली शर्ट और ब्लू पैंट भी पहने रखता था।


यात्री ट्रेन में कभी चेकिंग होती थी तो वह खुद को लोको पायलट बताकर बच निकलता था। साहिबगंज से भागलपुर और भागलपुर से किऊल तक वह खुद और परिवार के साथ बिना टिकट के ही सफर करता था। यात्री कोच में भीड़ होने के कारण वह गार्ड कोच में भी सफर करता था। रेल थानाध्यक्ष अरविंद कुमार ने बताया कि जहां से अमित ने रेलवे का नकली परिचय पत्र बनाया था, उसके बारे में रेल पुलिस पता लगा रही है। साथ ही अन्य बिंदूओं पर भी पुलिस जांच कर रही है।

अमित के पास से रेल पुलिस ने आधार कार्ड, रेलवे से जुड़ी कागजात बरामद और परिचय पत्र भी बरामद किया है। इसके आधार कार्ड पर पता नाथनगर प्रखंड का है। जबकि वह कहलगांव अनुमंडल स्थित एकचारी के भोलसर का रहने वाला है। उसके पास से मिले दस्तावेजों को रेल पुलिस ने जांच के लिए मालदा रेल मंडल भेजा है। रेल पुलिस ने बताया कि स्टॉफ ट्रेन में वह कई दिनों से सफर |

भागलपुर जंक्शन पर पांच साल पहले भी यात्रियों से टिकट जांच करने के आरोप में एक नकली टीटीई (ट्रेन टिकट परीक्षक) को गिरफ्तार किया गया था। उसके पास से भी परिचय पत्र और रेलवे की कई कागजात बरामद हुई थी। इस मामले की जांच करने मालदा मंडल मुख्यालय से भी अधिकारी भागलपुर पहुंचे थे।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close