Breaking News

भारत ने चीन की जमीन पर किया कब्जा तो ड्रैगन की चाल से हिमाचल सीमा पर फिर बिगड़े हालात, चीन को निपटाने मोदी सरकार ने बनाई नई रणनीति

30 अगस्त को पैंगोंग झील इलाके के दक्षिणी क्षेत्र में हुई घटना के बाद बातचीत जारी है, लेकिन दोनों ओर से सैन्य मौजूदगी को बढ़ाया गया है।

अब भारत और चीन ने अपनी-अपनी ओर टैंकों की तैनाती कर दी है, जो कि ऐसी जगह मौजूद हैं जहां से फायरिंग की जा सकती है। चीनी टैंक और सैन्य वाहन पैंगोंग इलाके के काला टॉप माउंटेन क्षेत्र के पास मौजूद हैं। इस इलाके को भारतीय सेना ने अपने कब्जे में ले लिया है।

दरअसल, इस इलाके में काला टॉप एक महत्त्वपूर्ण जगह है जो लड़ाई के हिसाब से काफी अहम है, लेकिन भारत की स्पेशल फोर्सेस ने चकमा देते हुए उसी काला टॉप को अपने कब्जे में ले लिया है।

अगर भारत की बात करें तो भारतीय सेना ने भी चुशूल और स्पैंगोर त्सो इलाके में पहले से ही अपने टैंक तैनात
कर रखे हैं। भारतीय टैंक जहां पर ताजा झड़प हुई थी, उसके दक्षिणी छोर पर तैनात हैं।

चीन की हर हरकत को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए भारतीय सेना ने टैंक और आर्मिलरी सपोर्ट को काला टॉप इलाके में बिछाया हुआ है। दूसरी ओर चीन ने भी बड़ी संख्या में बड़े और छोटे टैंक की तैनाती कर दी है, जो भारतीय रेंज के बिल्कुल पास है।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें


close