Breaking News

घर के मंदिर में कभी ना रखें इन मूर्तियों को खड़ा, वरना बहुत बुरा होगा नतीजा

वास्तु के अनुसार जिन देवताओं के हाथ में दो से ज्यादा अस्त्र हों, ऐसी तस्वीरे और मूर्तियां भी मंदिर में न रखें. वास्तु के अनुसार इसे भी अशुभ माना जाता है इन सबके अलावा आज हम आपको कुछ ऐसी ही मूर्तियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें आप कभी भी घर के मंदिर में ना रखिएगा नहीं तो आपको इसकी कीमत चुकाना महंगा पड़ सकता है.

भैरव देव

भैरव देव को भगवान शिव का ही अवतार माना जाता है लेकिन इनकी मूर्त‌ि कभी भी अपने घर के मन्दिर में नहीं रखनी चाह‌िए। इसका कारण यह है क‌ि भैरव एक तामस‌िक देवता हैं। तंत्र मंत्र द्वारा इनकी साधना की जाती है। जबक‌ि पार‌िवार‌िक जीवन में सुख शांत‌ि और प्रेम की अपेक्षा की जाती है। इसल‌िए घर में भैरव की मूर्त‌ि नहीं रखनी चाह‌िए।

नटराज

वैसे तो नटराज को भी भगवान शिव का अवतार माना जाता है लेकिन वास्तुव‌िज्ञान के अनुसार नटराज रूप वाली श‌िव प्रत‌िमा घर में नहीं होनी चाह‌िए। इसका कारण यह है क‌ि भगवान श‌िव जब तांडव नृत्य करते हैं तो वह व‌िनाश का प्रतीक होता है। नटराज रूप में श‌िव तांडव करते इसल‌िए इन्हें घर में नहीं लाएं इससे घर में विनाश के परिस्थिति पैदा होती है

शनि देव

शन‌ि ग्रह की शांत‌ि के ल‌िए शन‌ि की पूजा आराधना की सलाह ज्योत‌िषशास्‍त्र देता है लेक‌िन इन्हें घर में लाने की सलाह ज्योत‌िषशास्‍त्र भी नहीं देता है। शन‌ि महाराज एकांत, व‌िरह, उदासीनता और वैराग के देवता माने जाते हैं। इसल‌िए शन‌ि महाराज की मूर्त‌ियों को घर में नहीं लाना चाह‌िए यदि आपको इनकी पूजा करनी ही है तो आप इनकी पूजा घर के बाहर किसी मन्दिर में इनकी मूर्ति स्थापित कर के कर सकते है |

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close