Breaking News

क्या सच में नौकरियों में कटौती के साथ भारतीय रेलवे का पूरी तरह से किया जा रहा है निजीकरण, सच जानकर पैरों तले से खिसक जाएगी जमीन

वायरल खबर के मुताबिक, निजीकरण की प्रक्रिया में नौकरियों में कटौती  के साथ रेलवे का निजीकरण किया जा रहा है. आइए जानते हैं आखिर क्या है इस खबर की सच्चाई.

इस खबर की पड़ताल करने पर पता चला कि ये खबर फर्जी है. इससे जुड़ी ऐसी कोई भी खबर किसी भी वेबसाइट पर नहीं छापी गई है. भारत सरकार के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पीआईबी फैक्ट चेक ने भारतीय रेलवे के निजीकरण के दावे को फेक बताते हुए कहा, 'यह दावा फर्जी है! कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जहां पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप पर काम किया जा रहा है, लेकिन नियंत्रण अभी भी रेलवे मंत्रालय के पास होगा. ऐसे में ये साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रही ये खबर गलत है.
बता दें इससे पहले भी एक और खबर वायरल हुई थी, जिसमें दावा किया गया था कि रेलवे ने फैसला लिया है कि साल 2020-21 की सैलरी रेलवे कर्मचारियों को नहीं देगा. हालांकि ये दावा भी गलत साबित हुआ था. ऐसे में ये साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रही ये खबर गलत है.

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close