Breaking News

बड़ी खबर, मोदी सरकार ने बदला ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने का नियम, अब इस डॉक्यूमेंट की पड़ेगी जरूरत

नए नोटिफिकेशन के मुताबिक अब से आधार कार्ड का इस्तेमाल ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने, लाइसेंस का नवीनीकरण, गाड़ी का रजिस्ट्रेशन और इनसे जुड़े दस्तावेज में पता बदलने के लिए होगा. रोड ट्रांसपोर्ट मिनिस्‍ट्री के कहने पर ये बदलाव हुए हैं. इसके पीछे मकसद DL और कार रजिस्‍ट्रेशन में फर्जी पते का दस्‍तावेज लगाने से रोकना है. अब लोग घर बैठे ही अपना काम करा सकेंगे. अगर कोई ऑनलाइन सेवाएं लेना चाहता है तो आधार ऑथेंटिकेशन से काम बन जाएगा.


कोरोना वायरस महामारी के कारण रोड मिनिस्‍ट्री ने एक और बड़ी राहत दी थी. मिनिस्‍ट्री ने ड्राइविंग लाइसेंस और मोटर वाहन दस्तावेजों की वैधता अवधि बढ़ा दी है. मंत्रालय ने ड्राइविंग लाइसेंस, गाड़ी का परमिट और रजिस्ट्रेशन समेत अन्य दस्तावेजों की वैधता इस साल 31 दिसंबर 2020 तक बढ़ाई है.

अगर आप अपने आधार कार्ड क ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक कराने के बारे में सोच रहे हैं तो आपके पास अच्छा मौका है क्योंकि अब DL को Aadhaar से लिंक कराना काफी आसान हो गया है. डीएल-आधार लिंकिंग के जरिए नकली लाइसेंस बनवाने वालों पर भी रोक लगाई जा सकती है. आइए हम आपको बताते हैं कि आप अपने ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से कैसे लिंक करा सकते हैं-

अब आपके सामने एक नई विंडो ओपन हो जाएगी. यहां पर आपको फिर से राज्य की डिटेल के बारे में पूछा जाएगा. अब अपने लाइसेंस वाले राज्य को सलेक्ट करें. इसके बाद Countinue के बटन पर क्लिक करें और अपने आधार कार्ड से संबंधित जानकारी दें. इसके बाद प्रोसिड पर क्लिक करना होगा.

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close