Breaking News

अतीक अहमद की काली कमाई का साम्राज्य धीरे धीरे हो रहा है खत्म, अतीक अहमद के खिलाफ योगी का डंडा, हुई ऐसी कार्रवाई, छूट गए सांसद के पसीने



अतीक का किलेनुमा मकान, कार्यालय, कॉम्पलेक्स तोड़ने के बाद अब योगी सरकार इन सभी कामों को अंजाम तक पहुंचाने वाले कर्मचारियों, अधिकारियों और मजदूरों को उनका मेहनाताना मिल सके। इसके लिए अब योगी सरकार ने अतीक अहमद को फरमान जारी करते हुए साफ कर दिया है कि ध्वस्तिकरण की कार्रवाई का खर्च अतीक अहमद को वहन करना होगा। इतना ही नहीं, अगर योगी सरकार के इस फरमान की नाफरमानी करने की जुर्रत अतीक अहमद करता है तो उसके खिलाफ शासन की तरफ से आरसी जारी की जाएगी।

यहां पर हम आपको बताते चले कि अतीक अहमद के मकान को ध्वस्त करने के लिए 70 से अधिक मजदूरों को लगाया गया था। ध्वस्तिकरण की इस कार्रवाई में पुलिस प्रशासन सहित जिला प्रशासन भी शामिल रहा था। प्रयागराज विकास प्राधिकरण का दल, पुलिस दल,

 प्रवर्तन निदेशालय के दल इसमें शामिल हुए थे। इस प्रत्येक कार्रवाई में जेसीबी का इस्तेमाल भी किया गया था, जिसका खर्चा भी सूबे की सरकार अतीक से अहमद से ही वसूलेगी। अधिकारियों से लेकर मजदूरों को वेतन देने के लिए योगी सरकार ने अब बकायदा फरमान जारी कर दिया है। बताया जा रहा है कि महज एक माह के दौरान ध्वस्तिकरण की प्रक्रिया में हुए खर्च का पूरा ब्योरा एक सप्ताह के दरम्यिान तैयार कर लिया जाएगा।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close