Breaking News

चंद्रग्रहण के दिन भूलकर भी इन चीजों को हाथ ना लगाएं महिलाएं, वरना हो जाएगा परिवार का नाश

हिंदू धर्म में कई काम महिलाओं द्वारा वर्जित माने जाते हैं, यूं कहे कि महिलाओं द्वारा उन कामों को करने से अपशगुन माना जाता है. जिस तरह से घर संवारने में महिलाओं का हाथ होता है उसी तरह से अगर महिलाएं जरा सी गलती कर दें तो घर बर्बाद भी हो सकता है. जानिए किन चीजों को महिलाओं को अपने हाथ से नहीं छूना चाहिए, बल्कि अपने पति या बेटे से उसमें हाथ लगवाना चाहिए.




नारियल फोड़ना - पूजा या किसी भी शुभ कार्य में नारियल फोड़कर भेट चढ़ाई जाती है, ऐसे में नारियल को हमेशा पुरुषों द्वारा फुड़वाना चाहिए. अगर इस काम को कोई स्त्री करती है तो ये काफी अशुभ माना जाता है ये एक तरह का अपशगुन ही होता है.

हनुमान जी की पूजा- हनुमान जी बाल ब्रह्मचारी थे इसलिए उनके मन्दिर में स्त्रियों का जाना मना है. इसके अलावा घर में भी स्त्रियों को हनुमान जी की पूजा नही करनी चाहिए.

गायत्री मन्त्र का जाप- गायत्री मन्त्र को काफी पवित्र माना जाता है लेकिन बहुत कम लोग जानते है कि स्त्रियों को इस मन्त्र का जाप नही करना चाहिए.

जनेऊ धारण करना- हमारे हिन्दू धर्म के अनुसार केवल पुरुष ही जनेऊ धारण कर सकते है जबकि स्त्रियों के लिए जनेऊ धारण करने की मनाही है स्त्रियों का जनेऊ धारण करना अपशगुन कहलाता है.

कद्दू काटना- हिन्दू शास्त्रों में महिलाओं का कद्दू काटना मना है, जबकि कई जगहों पर स्त्रियाँ आज भी कद्दू काटती है. स्त्रियाँ अगर कद्दू काटना चाहती है तो उन्हें पहले किसी पुरुष से उसमें निशान लगवाना चाहिए. इसके बाद ही उन्हें कद्दू काटना चाहिए.

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close