Breaking News

इस गाँव में महिलाओ की जिन्दगी है नर्क, पहले महिलाओ को मारते है जूते फिर उसी से पिलाते है पानी, वजह जानकर रह जाओगे दंग

21 वी शताब्दी में महिलाए पुरषो के कंधे से कन्धा मिलाकर चल रही है. महिलाओ ने अपने हुनर का परचम लहराते हुए अपनी काबिलियत का प्रदशन किया है. आज भी देश के ऐसे कुछ हिस्सों में शिक्षा के आभाव में महिलाओ को नर्क से बदत्तर जिंदगी जीने पर विवश है.

आज के समय में लड़का लड़की को एक समान नजरो से देखा जाता है. हर किसी को एक समान अधिकार मिलता है, लेकिन कुछ जगहें आज भी ऐसी हैं जहाँ पर महिलाएं आज भी महज पुरषो के उपयोग की चीज बन कर अपना जीवन यापन कर रही है.

यह अंधविश्वास है राजस्थान के लोगो में जहा महिलाए अपने पति के साथ देवी के मंदिर जाएंगी और अपने पति के पैरो में पहने हुए जूते को उतरवाकर उन जूतों में पानी पीयेंगी, अंधविश्वास की कड़ी यही खत्म नहीं होती बल्कि महिलाए को इससे भी बुरे दौर से गुजरना पड़ता है. मुँह में जूता पकड़कर गांव में है घुमाते

राजस्थान में माता के मंदिर में भूत उतारने का प्रचलन है, कहा जता है की महिलाओ के ऊपर से भूत का साया इस मंदिर में उतारा जाता है. पति के जूते से पानी पीने के बाद पूजा पाठ कराने वाले तांत्रिक महिलाओ को उन्ही जूतों से मारते भी है, बाद में उन जूतों को मुँह में रख कर पूरे गांव का चक्कर लगाना पड़ता है.

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close