Breaking News

कोरोना के खिलाफ जंग में भी मिलेगा रूस का साथ, हथियारों की डील के बाद अब वैक्सीन भी देगा

 हाल ही में लॉन्च की गई रूस की कोरोना वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) की सप्लाई और उत्पादन को लेकर भारत और रूस के बीच कई स्तरों पर बातचीत चल रही है. जल्द ही ये वैक्सीन भारत को मिल सकती है. भारत में रूस के राजदूत निकोलेय कुशादेव ने बताया कि ये बातचीत अपने अंतिम चरणों में है और जल्द ही इस बारे में कोई बड़ा एलान किया जा सकता है. 

टाइम्स ऑफ़ इंडिया में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक रूस ने भारत के साथ स्पूतनिक V को लेकर सहयोग के तरीके साझा किए हैं. फिलहाल भारत सरकार इस बात पर विचार कर रही है कि इस वैक्सीन को कैसे इस्तेमाल में लाया जा सकता है. रूस के राजदूत कुशादेव ने कहा 'कुछ जरूरी तकनीकी प्रक्रियाओं के बाद वैक्सीन बड़े पैमाने पर (अन्य देशों में भी) इस्तेमाल की जा सकेगी. खबर के मुताबिक, राजनाथ के SEO की बैठक के लिए रूस दौरे के दौरान भी एक रूसी प्रतिनिधिमंडल से वैक्सीन के भारत आने के बारे में चर्चा हुई है.

अब विदेश मंत्री एस जयशंकर के हालिया रूस दौरे के दौरान भी कोरोना के टीके को लेकर चर्चा होगी. आपको बता दें कि रूस इसी हफ्ते से कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक वी को आम नागरिकों के लिए उपलब्ध कराने जा रहा है. इस वैक्सीन को मॉस्‍को के गामलेया रिसर्च इंस्टिट्यूट ने रूसी रक्षा मंत्रालय के साथ मिलकर एडेनोवायरस को बेस बनाकर तैयार किया है.रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 11 अगस्त को दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन को लॉन्च किया था. रूस के साथ वैक्सीन की सप्लाई, साथ मिलकर उत्पादन समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा हो रही है.

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close