Breaking News

वुहान से ही फैला था कोरोना, CCP के खिलाफ विद्रोह की आग भी वुहान से ही फैलेगी

 चीन के वुहान से ही पिछले वर्ष कोरोनावायरस की शुरुआत हुई थी। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के खिलाफ अब इसी वुहान से विद्रोह की आग उठी है। चीन के लोग वुहान की प्रांतीय सरकारों पर आरोप लगा रहे हैं कि जब कोरोना का विस्तार शुरू हुआ तो इन सरकारों ने उसे रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाए बल्कि उन लोगों को ही धमकाया जो सरकारों पर वायरस को छिपाने का आरोप लगा रहे थे या कोरोनावायरस की खबरों को बाहर दुनिया को बता रहे थे।

चीन के ही एक 67 वर्षीय शख्स Zhong Hanneng ने फ़रवरी में इस वायरस के कारण अपने बेटे को खो दिया। उन्होंने बताया कि कैसे चीन की कम्युनिस्ट सरकार मौतों के आंकड़ों को छिपाकर विश्व स्वास्थ्य संगठन को गुमराह कर रही थी। उन्होंने कहा, "महामारी एक प्राकृतिक आपदा होती है लेकिन ये केवल मानव निर्मित आपदा थी‌। मैनें अपने पूरे परिवार को खो दिया है, मेरी सारी खुशियां खत्म हो चुकी हैं।"

Zhong Hanneng वुहान के कोई अकेली ऐसी शख्स नहीं है जो इस वायरस के कारण परेशान हुए हैं बल्कि वुहान की बड़ी आबादी का हाल भी कुछ ऐसा ही है। उन्होंने ये संकेत भी दिया कि वुहान की लैब से कोरोना का विस्तार हुआ है। कम्युनिस्ट पार्टी के खिलाफ Hanneng की आवाज के उठाने के बाद से अन्य लोग भी खुलकर इस कम्युनिस्ट सरकार के खिलाफ मोर्चा निकाल रहे हैं और सरकार के खिलाफ मुकदमे की तैयारी में जुटे हुए हैं।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close