Breaking News

भारत और चीन के बीच चल रहे तनाव पर CDS जनरल बिपिन रावत जी ने दिया बड़ा बयान, कहा हम हर चुनौती के लिए तैयार हैं चीन को उसकी मुंह की खानी पड़ेगी....

जंग जैसे हालात के बाद भी भारत चीन वार्ता किसी नतीजे पर नहीं पहुँच रही। यही कारण था कि थलसेना अध्यक्ष जनरल नरवणे ने कहा था कि हालात बेहद तनावपूर्ण हैं। CDS जनरल बिपिन रावत पहले ही साफ कर चुके हैं कि बातचीत असफल होने पर सैन्य कार्रवाई द्वारा चीन को पीछे धकेलने का विकल्प भी खुला है।उनके बयान के बाद पैंगोंग झील के दक्षिणी छोर पर 29-30 अगस्त को भारत ने सैन्य अभियान द्वारा में ब्लैकटॉप तथा आस पास की पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया था। भारत की कार्रवाई का नतीजा यह हुआ कि चीनी सेना चारों ओर से घिर गई है। उनका प्रमुख सैन्य अड्डा मोल्डो भारतीय सेना की जद में है।



इसी बीच यह भी खबर आयी थी कि CDS ने पार्लियामेंट्री कमेटी को बताया कि सेना के पास पर्याप्त मात्रा में राशन और अन्य जरूरी सामान स्टॉक में है। रिपोर्ट के अनुसार आर्मी किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार है और उसके पास 10 महीने का स्टॉक मौजूद है। यह सभी बातें बताती हैं कि भारतीय सेना युद्ध के लिए पूरी तरह से तैयार है।

किंतु सरकार और सेना के स्तर पर किसी भी टकराव को टालने की कोशिशें लगातार जारी हैं। हालांकि, भारत सरकार का पक्ष रखते हुए विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा था "मैंने यह बात किसी अन्य संदर्भ में कुछ दिनों पूर्व कही थी, मैं कहना चाहता हूं कि मैं इस बात से पूर्णतः सहमत हूँ कि इस परिस्थिति का समाधान कूटनीति के जरिये खोजा जाना चाहिए और मैं इसे जिम्मेदारी के साथ कह रहा हूँ।"


बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close