Breaking News

चीन का काल बनेगी भारत की लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल, सीमा पर तनाव के बीच DRDO ने किया सफल परीक्षण

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन  ने MBT अर्जुन टैंक से लेजर गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल सफल परीक्षण कर लिया है। यह एक बड़ी उपलब्धि है जो अहमदनगर में केके रेंज में DRDO ने हासिल की है। लेजर गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल  सफल परीक्षण के बाद DRDO ने बताया कि इस मिसाइल से 3 किलोमीटर तक दूर बैठे दुश्मन को निशाना बनाया जा सकता है। इसे कई प्लेटफॉर्म लॉन्च क्षमता के साथ डिवेलप किया गया है। इन दिनों में MBT अर्जुन टैंक  एक बंदूक से तकनीकी मूल्यांकन के टेस्ट से गुजर रहा है। इसके अतिरिक्त इसमें हाई स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टारगेट वारहेड के माध्यम से एक्सप्लोसिव रिऐक्टिव आर्मर प्रोटेक्टेड वेहिकल्स  को उड़ाती है।

यह खास मिसाइल मॉडर्न टैंक्स से लेकर भविष्य के टैंक्स को भी तबाह करने में सफल साबित होगी। वहीं इसे ATGM की मदद से कम ऊंचाई पर उड़ने वाले हेलिकॉप्टर्स पर निशाना साधकर उसे मार गिराया जा सकता है। DRDO की इस बड़ी कामयाबी पर देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर सफल परीक्षण पर बधाई दी है।

रक्षामंत्री ने ट्वीट कर कहा कि MBT अर्जुन से लेजर गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण के लिए DRDO को बधाई। DRDO पर भारत को गर्व है, जो निकट भविष्य में आयात निर्भरता को कम करने की दिशा में काम कर रहा है।

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close