Breaking News

तो इसलिए किया गया था SIT का गठन, SIT को मिले कानपुर से एक दर्जन लव जिहाद के मामले, इस्लामी संगठन की भूमिका पर शक, योगी सरकार ने दिए कड़े आदेश....

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सोमवार को इस बारे में जानकारी देते हुए एक अधिकारी ने बताया कि अपर पुलिस अधीक्षक दीपक भूकर की अगुवाई वाली एसआईटी ने हाल ही में 'लव जिहाद' के एक दर्जन से ज्यादा मामले पकड़े हैं. इनमें ज्यादातर मामले जूही इलाके से हैं. वही जूही इलाका जो शालनी यादव से फिजा फातिमा बनी युवती के लव जिहाद के मामले के बाद सुर्खियों में आया था. अब एसआईटी इस बात की जाँच करेगी कि कहीं लव जिहाद रैकेट में किसी इस्लामी संगठन का तो हाथ नहीं है.


तो वहीं इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कानपुर में निकाह के नाम पर धर्म परिवर्तन कराने की बात जान कर अपनी नाराजगी जाहिर की थी. साथ ही ये भी साफ कर दिया था कि सरकार किसी भी तरह का लव जिहाद बर्दाश्त नहीं करेगी. उन्होंने पुलिस को निर्देश दिए थे कि कार्ययोजना बना कर ऐसी घटनाओं को चिह्नित किया जाए और फिर कार्रवाई की जाए. सीएम योगी ने कहा था कि मजहब की आड़ में महिलाओं पर अत्याचार रोकने के लिए सरकार सतर्क है.

तो वहीं अब कानपुर के सरसौल के महाराजपुर थाना क्षेत्र से लव जिहाद का मामला सामने आया है. महाराजपुर के एक गाँव के रहने वाले रिक्शा चालक की 17 साल की बेटी को फैय्याज अली ने प्रेम जाल में फँसा लिया. जादू-टोना करके फैय्याज ने किशोरी को अगवा कर धर्म परिवर्तन करवाने की कोशिश की. जिसे कानपुर में पुलिस ने देर शाम गिरफ्तार कर लिया. फैय्याज पर अपहरण, दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है. वहीं, युवती को मेडिकल जाँच के बाद परिजनों को सौंप दिया गया.

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें
close